कोंडागांव: एम्बुलेंस चालक की नक्सल हत्या, मुखबिरी का आरोप

0 12

कोंडागांव|  बस्तर  संभाग के कोंडागांव जिले के टेकानार में  नक्सलियों ने धनोरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के एम्बुलेंस चालक की हत्या कर दी| नक्सलियों ने पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाते यह वारदात की|  बता दें जिले में  नक्सलियों के खिलाफ आपरेशन जारी है| इसी दौरान  ओरछा मार्ग पर यह नक्सल वारदात  हुई ।

 धनोरा थाना प्रभारी गणेश यादव ने बताया कि  मृतक के भाई का बयान दर्ज किया गया है। मौके पर पुलिस बल  रवाना किया गया है।

कोंडागांव जिला मुख्यालय से 58 किमी दूर टेकानार में पुलिस मुखबिरी के आरोप में नक्सलियों ने धनोरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के एम्बुलेंस चालक की हत्या कर दी है।

शुक्रवार की शाम टेकानार मुर्गा बाजार से लौट रहे महतारी एंबुलेंस के ड्राइवर जयलाल बघेल  और उसके भाई को अगवा कर अपने साथ ले गए थे। जहां एंबुलेंस चालक को मौत के घाट उतार दिया है। वहीं, मृतक का भाई नक्सली चंगुल से भाग आया है।

धनोरा थाना से  पुलिस बल घटना स्थल रवाना हो रही है।

बताया गया   कि मृतक के परिवार को आठ साल पहले नक्सलियों ने मकसोली गांव से भगाया था, जिसके बाद पीड़ित परिवार धनोरा में आकर बसा हुआ  है।

मृतक के भाई पिलदास ने बताया कि शुक्रवार को मुर्गा बाजार से दोनों भाई घर आ रहे थे। रास्ते में बंदूकधारी आधा दर्जन नक्सलियों  ने घेरकर पकड़ लिया। मेरे भाई जयलाल के सिर पर कुल्हाड़ी से वार किया । जयलाल के  गिरते ही नक्सली पुलिस मुखबिरी की सजा देने की बात कहते हुए मुर्दाबाद के नारे लगा रहे थे।

पिलदास के मुताबिक इसी दौरान मौका लगते ही वह नक्सलियों के चंगुल से भागकर जंगल जाकर पेड़ पर छिप गया । रात  पेड़ पर छिपकर बिताने  के बाद शनिवार  सुबह गांव पहुंचकर घटना की जानकारी दी|

इसके बाद ग्रामीण इसकी सुचना देने  थाना पहुंचे| 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.