10वीं की परीक्षा बना पिता-पुत्र के मौत का कारण, एक ही फंदे पर दोनों ने दे दी जान

पिता की डांट से दुखी होकर 19 वर्षीय बेटे ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। आत्मग्लानि में पिता ने भी फांसी लगाकर अपनी जान दे दी है। पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दिया है।

0 29

- Advertisement -

बिलासपुर| पिता की डांट से दुखी होकर 19 वर्षीय बेटे ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। आत्मग्लानि में पिता ने भी फांसी लगाकर अपनी जान दे दी है। पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दिया है।

दरअसल, घटना सिरगिट्टी थाना क्षेत्र के आश्रय परिसर का है। जहां 44 वर्षीय जयप्रकाश अपने 19 वर्षीय बेटे निशांत के साथ रहते थे। उनका बेटा विशाखापट्टनम में रहकर पढ़ाई करता था। बीते साल लॉकडाउन के बाद वह सिरगिट्टी में ही आकर रहने लगा था।

- Advertisement -

सप्लीमेंट्री आने के बाद निशांत अपनी दसवीं की परीक्षा की मार्कशीट लेकर नहीं आया था। इस वजह से पिता पुत्र के बीच अक्सर विवाद हुआ करता था और घटना से पहले भी उनके बीच इसी बात को लेकर विवाद हुआ। जिसके बाद निशांत ने अपने कमरे में साड़ी का फंदा बनाकर फांसी लगा ली। जैसे ही पिता को पता चला उसने फांसी का फंदा काट कर शव को नीचे उतारा और परिजनों को इसकी जानकारी दी।

परिजन आसपास के लोगों को बुलाने चले गए। इस बीच जयप्रकाश ने भी उसी फांसी के फंदे में झूल कर खुदकुशी कर ली। इधर घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.