पिथौरा वन विभाग की कार्रवाई, दो हेक्टयर वन भूमि अवैध कब्जे से मुक्त,आरोपी गिरफ्तार

| महासमुंद जिले के पिथौरा वन विभाग द्वारा कोई दो हेक्टयर वन भूमि को अवैध कब्जे से मुक्त करवा कर एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

0 129

पिथौरा| महासमुंद जिले के पिथौरा वन विभाग द्वारा कोई दो हेक्टयर वन भूमि को अवैध कब्जे से मुक्त करवा कर एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। ज्ञात हो कि प्रदेश भर में वन भूमि पर कब्जा कर वन अधिकार पाने की नीयत से लगातार जंगल कटाई हो रही है जिससे जंगलो का रकबा भी दिनोदिन घटता जा रहा है।

वन विभाग से मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार को वन विभाग के अमले ने स्थानीय वन एस डी ओ यू आर बसन्त एवम रेंजर एस आर निराला के नैतृत्व में बुंदेली क्षेत्र में हरे भरे पेड़ पौधों को काट कर कोई दो हेक्टयर में कब्जा कर चुके मनोज दास पिता हँसदास निवासी ग्राम बुंदेली से अतिक्रमित वन भूमि को मुक्त करवा कर आरोपी को गिरफ्तार किया है।

- Advertisement -

आरोपी पर भारतीय वन अधिनियम1927 की धारा 33, 1(ज) ,लोक सम्पत्ति क्षति अधिनियम 1984 की धारा 3(1) के तहत कार्यवाही की है।कार्यवाही के दौरान वन विभाग के दर्जनों अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे।

बता दें इसके पहले  महासमुंद जिले के खैरसली और बंदोरा के बिच चला आ रहा बरसों पुराना वन भूमि विवाद आखिरकार सुलझ गया। दोनों पक्षों की सहमति से सीमांकन किया गया।

जमीन विवाद के मामले को लेकर ग्राम खिरसाली एवं बंदोरा के ग्रामीण आमने सामने हो गये एवं धरसा विवाद को लेकर दोनों पक्षों में वाद विवाद और मारपीट की स्थिति निर्मित हो गई थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.