सिहावा में एक और तेंदुआ पिंजरे में कैद

छत्तीसगढ़ के  धमतरी जिले के  सिहावा इलाके में आतंक का पर्याय बने तेंदुओं में से एक और तेंदुआ पिंजरे में कैद हो गया | वन वन विभाग ने 4 पिंजरे लगाये थे | इसके पहले । 22 अक्टूबर को एक पिंजरे में एक तेंदुआ कैद हुआ था|

0 18

- Advertisement -

रायपुर| छत्तीसगढ़ के  धमतरी जिले के  सिहावा इलाके में आतंक का पर्याय बने तेंदुओं में से एक और तेंदुआ पिंजरे में कैद हो गया | वन वन विभाग ने 4 पिंजरे लगाये थे | इसके पहले । 22 अक्टूबर को एक पिंजरे में एक तेंदुआ कैद हुआ था|

आज तड़के पिंजरे में तेंदुए के कैद होने की जैसे ही खबर जैसे ही ग्रामीणों को हुई तो तेंदुए को देखने आसपास के लोगों की भीड़ लग गई।  वन सूत्रों के मुताबिक पकड़े गए तेंदुए को टाइगर रिजर्व में छोड़ा जाएगा।

- Advertisement -

बता दें   बीते 12 अक्टूबर  सोमवार देर शाम सिहावा श्रृंगी ऋषि मंदिर दर्शन करने ओडिशा के नबरंगपुर जिले के रायगरा ब्लाक  के तुरुडीही  निवासी अविनाश गंडा नामक 6 वर्षीय बालक अपने परिवार के साथ आया हुआ था | इसी दौरान मंदिर के पास छिपे तेंदुए ने हमला कर दिया जिसमें उसकी जन चली गई | सिहावा में  लोगों के चक्काजाम कर विरोध प्रदर्शन के बाद वन विभाग ने  तेंदुए को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाया।  अब तक  इलाके में तेंदुए के हमले से तीन बच्चों की मौत हो चुकी है।

 

पढ़ें :आखिर सिहावा श्रृंगीऋषि पहाड़ी गुफा के पिंजरे में कैद हुआ तेंदुआ

22 अक्टूबर को एक पिंजरे में एक तेंदुआ कैद हुआ था। वहीँ आज तड़के सुबह फिर एक तेंदुआ कैद हो गया है। जैसे ही तेंदुआ की पिंजरे में कैद होने की खबर सुनकर झलक पाने लोगों की भारी संख्या में भीड़ लग गयी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.