शिकारी करंट से भालू की मौत?

| छत्तीसगढ़ के  महासमुंद जिले के पिथौरा ब्लाक से सटे  बलौदा बाजार वन मंडल के अंतर्गत लवन परिक्षेत्र में  करंट से एक भालू की मौत हो गई|  ग्रामीणों की मानें तो शिकारी करंट से भालू की मौत हुई होगी क्योकि वन क्षेत्रो में लगातार करन्ट युक्त लोहे की तार के फंदे शिकार हेतु लगाए जा रहे है। उसी शिकारी करंट के फंदे में  भालू  की फंस गया होगा| 

0 149

- Advertisement -

रायपुर| छत्तीसगढ़ के  महासमुंद जिले के पिथौरा ब्लाक से सटे  बलौदा बाजार वन मंडल के अंतर्गत लवन परिक्षेत्र में  करंट से एक भालू की मौत हो गई|  ग्रामीणों की मानें तो शिकारी करंट से भालू की मौत हुई होगी क्योकि वन क्षेत्रो में लगातार करन्ट युक्त लोहे की तार के फंदे शिकार हेतु लगाए जा रहे है। उसी शिकारी करंट के फंदे में  भालू  की फंस गया होगा|

मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार की सुबह एक भालू की का शव संदिग्ध परिस्थितियों में अर्जुनी से खैरा मार्ग के बीच कक्ष क्रमांक 113 में मिला है। मृत भालू की मौत 24 घंटे पहले होने का अनुमान लगाया जा रहा है। परन्तु वन विभाग द्वारा गस्त नही किये  जाने के कारण विभाग को पता ही नहीं  चला कि भालू कि  मौत करन्ट से हो चुकी है।

विभाग के अनुसार भालू की मौत कैसे हुई यह रहस्य बना हुआ है।

- Advertisement -

जबकि ग्रामीणों के अनुसार करंट लगने से उसकी मौत हो हुई है जहां पर भालू मृत अवस्था में पड़ा है वह स्थान वन्य प्राणियों चीतल एवम जंगली सुअर के आने जाने का स्थान है। इसलिए सम्भव है कि शिकारियों द्वारा वहां करण्टयुक्त तार बिछाई होगी जिसकी चपेट में भालू को आया देख शिकारी हमेशा की तरह अपना सामान समेट कर भाग गए होंगे। इसी स्थान पर ऊपर से 11 केवी हाई टेंशन विद्युत तार गुजरा है ।

बहरहाल लगातार वन्य प्राणियों की करंट  से हो रही मौतों ने वनो की सुरक्षा में लगे भारी भरकम वन अमले पर सवालिया निशान लगा  दिया है| हाल ही में शिकारी करंट की चपेट में आकार एक बायसन की मौत हो चुकी है|

महासमुन्द वनमण्डल के अंतर्गत वन परिक्षेत्र पिथौरा परिवृत्त सांकरा बोईरडीह परिसर में शिकारी करंट की चपेट में आकर प्यासे बायसन की मौत हो गई थी | शिकार में शामिल तीन ग्रामीणों को गिरफ्तार  किया गया था ।

मौत करंट से-पीएम रिपोर्ट 

इधर शुक्रवार शाम 4:00 बजे कसडोल से पशु चिकित्सा विभाग के डॉ लोकेश वर्मा ने मौके पर पहुंचकर भालू का पोस्टमार्टम किया एवं उन्होंने भालू के करंट से मरने की पुष्टि की है। घटना की जानकारी मिलते ही उप वन परिक्षेत्र अधिकारी आशुतोष ठाकुर ने तत्परता दिखाते हुए पशु चिकित्सक को फोन कर घटनास्थल पर बुलवाया एवं पोस्टमार्टम करवाया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.