दूल्हा समाजवाद ,दुल्हन ममता बनर्जी के साथ लेगा सात फेरे

तमिलनाडु में कल रविवार 13 जून को अनोखी शादी होने जा रही है| समाजवाद नामक दूल्हा, ममता बनर्जी नाम की दुल्हन के साथ सात फेरे लेगा|  अजब-गजब शादियों की खबरें देश दुनिया में पढने-सुनने और देखने में आती रही हैं| लेकिन जब दुल्हे और दुल्हन का नाम अजीब संयोग से सामने आता है तो भी चर्चा में आ जाता है|

0 29

- Advertisement -

तमिलनाडु में कल रविवार 13 जून को अनोखी शादी होने जा रही है| समाजवाद नामक दूल्हा, ममता बनर्जी नाम की दुल्हन के साथ सात फेरे लेगा|

अजब-गजब शादियों की खबरें देश दुनिया में पढने-सुनने और देखने में आती रही हैं| लेकिन जब दुल्हे और दुल्हन का नाम अजीब संयोग से सामने आता है तो भी चर्चा में आ जाता है| इसी तरह की एक शादी कल रविवार 13 जून को तमिलनाडु में होने जा रही है| समाजवाद नामक दूल्हा, ममता बनर्जी नाम की दुल्हन के साथ सात फेरे लेगा|

मिडिया रिपोर्ट के मुताबिक सीपीआई तमिलनाडु के राज्य सचिव आर. मुथारासन और उप सचिव के. सुब्बारायन भी इस शादी में शामिल होने वाले हैं।

इस शादी की चर्चा सोशल मीडिया पर जमकर वायरल  हो रही है| इतना ही नहीं दुल्हे के कुनबे के नाम भी विशेष हैं| द्ल्हे समाजवाद के भाइयों का नाम लेनिनवाद और साम्यवाद हैं वहीँ पोते का नाम मार्क्सवाद है|

दुल्हे के पिता केए मोहन सीपीआई के एक नेता हैं जबकि दुल्हन एक कांग्रेसी परिवार से है और के. पलानीस्वामी और पी.नीलमबल की बेटी हैं।
जहाँ समाजवाद और लेनिनवाद पेशे से गहनों के व्यापारी हैं, वहीँ साम्यवाद वकील हैं।

- Advertisement -

रविवार 13 जून को सेलम के कट्टूर में अमानी कोंडलमपट्टी क्षेत्र में ममता बनर्जी के साथ समाजवाद की शादी होने वाली है।

भाकपा के विल्लुपुरम जिला सचिव 52 वर्षीय केए  मोहन वर्ष 2016 में विधानसभा चुनाव पीपुल्स वेलफेयर एलायंस के उम्मीदवार के रूप में लड़ चुके हैं। वे बच्चों के नामकरण पर कहते हैं, 1991 में जब सोवियत संघ टूट गया और खबरें प्रकाशित हुईं कि साम्यवाद खत्म हो चुका है, उस दौरान अपनी शादी से पहले ही मैंने सोच लिया था कि मैं अपने बच्चों का नाम ऐसे रखूंगा, जो इस विचारधारा को दर्शाता हो।

इस तरह से मैंने अपने बच्चों का नाम साम्यवाद, समाजवाद और लेनिनवाद रखा और मार्क्‍सवाद मेरा पोता है। इस तरह के नाम रखे जाने से आलोचनाओं और अपमान का सामना करना पड़ा। लेकिन  धीरे-धीरे चीजें बदल गईं और सबका ध्यान हम पर आ गया|

दूल्हा समाजवाद खुशी जताते कहते हैं कि मेरी पत्नी का नाम भी बंगाल की वर्तमान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नाम पर है। उसके माता-पिता कांग्रेस समर्थक हैं और इसलिए उन्होंने अपनी बेटी का नाम ममता बनर्जी रखा, जो एक तेजतर्रार नेता हैं।

बता दें पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री खुद भी पहले कांग्रेस में थी और बाद में अलग होकर खुद की पार्टी तृणमूल कांग्रेस बनाई थी। (deshdesk)

Leave A Reply

Your email address will not be published.