शिकारी करंट की चपेट में आकर बायसन की मौत, 3 गिरफ्तार

0 11

महासमुन्द | महासमुन्द वनमण्डल के अंतर्गत वन परिक्षेत्र पिथौरा परिवृत्त सांकरा बोईरडीह परिसर में शिकारी करंट की चपेट में आकर प्यासे बायसन की मौत हो गई| शिकार में शामिल तीन ग्रामीणों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेज दिया गया है।

विभागीय सूत्रों के अनुसार पिथौरा परिक्षेत्र के कक्ष क्र 264 में शनिवार की रात क्षेत्र के कुछ शिकारियों ने चीतल एवम जंगली सुअर के शिकार के लिए करंट देकर  जी आई तार का फंदा बिछाया था। परन्तु इस फंदे की चपेट में जंगल में ही पानी पीने जा रहा एक बायसन आ गया और करंट लगने से घटनास्थल पर ही मारा गया।

सुबह जब शिकारियों ने देखा कि बायसन फंस कर मारा गया है तब वे उसे वही छोड़ स्वयम भाग खड़े हुए।

घटना की जानकारी वन विभाग को मिलते ही एस डी ओ यू आर बसन्त तत्काल घटना स्थल पहुचे तब मौके पर वन अधिकारियों एवं वन अमले ने पाया कि करंट युक्त तार से उक्त मौत हुई है।

अधिकारियों द्वारा सुरेश नवरंग डॉग स्क्वाइड प्रभारी अचानकमार टाइगर रिजर्व को बुलवा कर शिकारियों तक पहुचने के प्रयास किये गए।

डॉग स्क्वाड द्वारा बताए गए समीप के  ग्राम जर्रा के ग्रामीणों के यहां छापा मार कर शिकार में प्रयुक्त सामग्री जब्त कर कार्यवाही की गई।

एस डी ओ श्री बसन्त ने बताया कि ग्राम जर्रा निवासी प्रसंन (बटो) के घर में जी.आई. तार बांस की डंडी 02 नग, कांच की शीशी 71 नग तथा बांस की खूंटी, ,इन्द्रजीत के घर से लगभग 200 ग्राम जी.आई. तार एवं अनिल के निवास स्थल से 03 बंडल जी.आई. तार एवं बांस की खूंटी जब्त किया गया।

जब्ती पंचनामा बनाकर पी. ओ.आर.  जारी कर मृत 01 नग गौर. (बायसन) के शव को सहायक पशु चिकित्सक पिथौरा व्दारा शव परीक्षण किया गया | पंचनामा पश्चात घटना स्थल में जला दिया गया।

आरोपियों के विरुद्ध वन्यप्राणी (संरक्षण) अधिनियम 1972 की धारा 9, 39 50,51, एवं भारतीय वन अधिनियम 1927 की धारा 33 के अंतर्गत उल्लंघन करने पर कार्यवाही कर न्यायालय में प्रस्तुत किया जा रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.