एसएसटी टीम द्वारा ग्रामीणों को धमका कर अवैध वसूली!

नीय प्रशासन द्वारा महासमुन्द बलौदाबाजार सीमा पर अस्थायी जांच चौकी बना कर वहां नियुक्त की गई एसएसटी टीम द्वारा ग्रामीणों को धमका कर अवैध वसूली का मामला सामने आया है. इस मामले की जानकारी स्थानीय एस डी एम को मौखिक दी गयी जबकि थाना प्रभारी राजेन्द्र राजपूत ने बताया कि अवैध वसूली की शिकायत नही मिली है मिलते ही कार्यवाही की जाएगी.

0 36

- Advertisement -

पिथौरा| स्थानीय प्रशासन द्वारा महासमुन्द बलौदाबाजार सीमा पर अस्थायी जांच चौकी बना कर वहां नियुक्त की गई एसएसटी टीम द्वारा ग्रामीणों को धमका कर अवैध वसूली का मामला सामने आया है. इस मामले की जानकारी स्थानीय एस डी एम को मौखिक दी गयी जबकि थाना प्रभारी राजेन्द्र राजपूत ने बताया कि अवैध वसूली की शिकायत नही मिली है मिलते ही कार्यवाही की जाएगी.

महासमुन्द जिले के सरहदी क्षेत्र किशनपुर चौक के समीप एस एस टी टीम में शामिल एक प्रधान आरक्षक से इस मार्ग पर प्रतिदिन चलने वाले ग्रामीण परेशान है. ज्ञात हो कि लोकसभा चुनाव आचार संहिता के चलते जिले की सीमाओं पर चेकिंग पाइए वनाया गया है. जहां पर एस. एस.टी. टीम के हाथ वाहनो की चेकिंग की जाती है. परन्तु चेकिंग की आड़ में किसनपुर चेकिंग पॉइंट में अवैध वसूली का धंधा बेख़ौफ़ चल रहा है.

ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार एक काले रंग की थार वाहन में एक पुलिस अफसर दोपहर बाद पहुचता है और फिल्मी स्टाइल में आने जाने वाली दुपहिया चार पहिया सभी वाहनों को रोक कर वसूली अभियान अनवरत जारी है. उक्त अफसर का खौफ इतना है कि ग्रामीण खुलेआम शिकायत करने से भी डर रहे है.

- Advertisement -

ऐसा ही एक वाकया विगत 2 अप्रैल 2024 को घटित हुआ. भयभीत ग्रामीण ने इस प्रतिनिधि को बताया कि रात्रि कोई 11:30 बजे वह अपने ग्राम बया से दोपहिया द्वारा पिथौरा जा रहा था. तभी किशनपुर चेकिंग पोस्ट में तैनात एक पुलिस वाले द्वारा वाहन रोककर हेलमेट व पेपर, वीमा मांगा गया फिर उसे भय दिखाकर पाच हजार की माग की. नहीं देने पर दुपहिया वाहन जब्ती  कर जेल भेजने की धमकी दी. जिस पर दुपहिया वाहन चालक द्वारा अपने एक करीबी मित्र से मदद मांगी.

जिस पर चेकिग पाइट पर तैनात पुलिस वाले द्वारा एक हजार रूपया में सौदा किया. परन्तु दुपहिया मालिक के पास नगद राशि नही थी लिहाजा उक्त पुलिस वाले ने एक फ़ोनपे मोबाइल नम्बर 9644560822 में डालने की कहा गया. ग्रामीण ने भी बकायदा फ़ोनपे पर 1000 ट्रांसफर कर दिए. कथित आरोपी दुपहिया मालिक और उक्त पुलिस कर्मी की मोबाइल पर हुई बात की रिकॉर्डिंग क्षेत्र के सभी सोशल मीडिया ग्रुप में वायरल हो रही है. जिससे पुलिस विभाग की छवि धूमिल भी हो रही है.

शिकायत मिलने पर होगी कार्यवाही
दूसरी ओर स्थानीय थाना प्रभारी श्री राजपूत ने इस प्रतिनिधि को बताया कि हमारे पास शिकायत नही मिली है।शिकायत मिलते ही जांच कर कार्यवाही की जाएगी.

deshdigital के लिए रजिंदर खनूजा

Leave A Reply

Your email address will not be published.