नीलांचल ने किया मितानिन दिवस पर मितानिनों का सम्मान

नीलांचल सेवा समिति  द्वारा नगर के गुरुतेग बहादुर हाल में मितानिन दिवस के अवसर पर मितानिन दिवस सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।कार्यक्रम में शामिल कोई 200 मितानिनों को  सम्मानित किया।

0 257

- Advertisement -

पिथौरा|  नीलांचल सेवा समिति  द्वारा नगर के गुरुतेग बहादुर हाल में मितानिन दिवस के अवसर पर मितानिन दिवस सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।कार्यक्रम में शामिल कोई 200 मितानिनों को  सम्मानित किया।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए नीलांचल सेवा समिति के संस्थापक संपत अग्रवाल ने कहा कि मितानिन बहनों का कार्य ग्रामीण क्षेत्र में स्वास्थ्य सुविधा दिलाने के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता हैं। उनके द्वारा बच्चों को टीका लगने से लेकर, गर्भवती महिलाओं की देखरेख करना, अस्पताल ले जाना, बच्चा को स्वस्थ रखने के लिए पोषण आहार संबंधी जानकारी देने का काम जिम्मेदारी से किया जाता है।
शुरुआत में मितानिन बहनों द्वारा मातृ स्वास्थ्य, शिशु स्वास्थ्य और पोषण के विषयों से अपना कार्य शुरू किया गया था। फिर उन्होंने मलेरिया, दस्त, टी.बी. और कुष्ठ जैसे रोगों से लड़ने में बड़ी भूमिका निभानी शुरू की और आज मितानिन बहनें गांव में कई तरह के कार्य कर रहे है जैसे- जचकी, टीकाकरण, बच्चों का वजन करना, आहार की जानकारी देना, नवजात के सात लक्षण इसके अतिरिक्त मलेरिया, दस्त, निमोनिया, बीमार नवजात, टीवी, कुष्ठ, पीलिया, कुपोषण, कृमि, गर्भवती पंजीयन, प्रसव पूर्व चार जांच, संस्थागत प्रसव, शहीत कृमि, गर्भवती पंजीयन, प्रसव पूर्व चार जांच, संस्थागत प्रसव, महिलाओं की खास समस्याएं, मानसिक स्वास्थ्य, बी.पी., शुगर आदि के लिए भी समुदाय को सेवाओं से जोड़ रही हैं।

स्वास्थ्य समस्याओं पर जागरूकता बढ़ाने, उचित सलाह देने और सामान्य बीमारियों के लिए प्राथमिक इलाज देने का काम कर रही हैं। स्वास्थ्य के अधिकार के साथ-साथ मितानिन बहनें महिला सशक्तीकरण जैसे सामाजिक मुद्दों पर भी बेहतर कार्य कर रही हैं। वे शासन की अनेक कल्याणकारी योजनाओं के अधिकार से समुदाय को जोड़ रही हैं।

- Advertisement -

आजादी के 75 साल बाद भी बच्चों में कुपोषण, गर्भवती महिलाओं में खून की कमी है। इसे दूर करने के लिए सरकार ने अनेक योजनाएं चलाई है। इन योजनाओं का लाभ जरूरतमंद को अवश्य मिले, इस दिशा में मितानिनों का प्रयास होना चाहिए। उन्होंने मितानिनों को प्रत्येक ग्रामीणों के संपर्क में रहने की अपील करते हुए कहा की वे ग्रामीणों के लिए वरदान बन सकती है। योजनाओं का लाभ जरूरतमंद तक पहुंच सकता है। आज मितानिन सम्मान समारोह का आयोजन का उद्देश्य आपके द्वारा किए जा रहे प्रशंसीय कार्यों का सम्मान करना है।


इस अवसर पर सेक्टर प्रभारी विक्की सलूजा,यशवंत छाबड़ा, एमटी निलीमा मोनिका मैथ्यूज, ब्लॉक समन्वयक मेरी कुहुक, ब्लॉक समन्वयक विदेशनी गाड़िया, सह प्रभारी जतिन ठक्कर, सह प्रभारी कोमल महंती, लक्ष्मी , दीप, तेजश्वरी पांडेय, पदुमलाल साहू, प्रेमशंकर प्रधान, रक्षपाल निषाद, प्रहलाद बूड़ेक, एमटी गुणवंती निषाद, भारती वर्मा, किरण कोसरिया, बबीता ग्वाल, किरण सोना, सीमा यादव, दुर्गा, अहिल्या बरिहा, दुर्गा पटेल, कामिनी नंद, सुनीता साहू, केकयी नाग, सुलोचना चौहान, व विजय गुप्ता,राजा शुक्ला, गौरव चंद्राकर, ऋषिकेश शुक्ला सहित अनेक लोग उपस्थित थे।

deshdigital के लिए रजिंदर खनूजा

Leave A Reply

Your email address will not be published.