राजधानी में बंद का असर, दुकानों में लटका ताला, वाहनों के थमे पहिए

 बेमेतरा में दो समुदाय के बीच हुई हिंसा के बाद विहिप ने छत्तीसगढ़ बंद करने का आह्वान किया था, जिसका असर प्रदेश समेत राजधानी में दिखने लगा है। बसों के पहिए थम गए हैं, दुकानों में ताला लटका नजर आ रहा है।

0 50

- Advertisement -

रायपुर। बेमेतरा में दो समुदाय के बीच हुई हिंसा के बाद विहिप ने छत्तीसगढ़ बंद करने का आह्वान किया था, जिसका असर प्रदेश समेत राजधानी में दिखने लगा है। बसों के पहिए थम गए हैं, दुकानों में ताला लटका नजर आ रहा है। वहीं विहिप के कार्यकर्ताओं ने बस में तोड़फोड़ भी की है।

- Advertisement -

साथ ही विहिप ने चार जगह जयस्तंभ चौक, तेलीबांधा चौक, भाठागांव चौक और फाफाडीह चौक में चक्कजाम करेगी। जानकारी के अनुसार, राजधानी में विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता बंद करवाने के लिए निकले, जिनके साथ भाजपा नेता भी शामिल रहे। वहीं नया बस स्टैंड में बसों में तोड़फोड़ करने की भी जानकारी है। बड़ी संख्या में पुलिस बल भी तैनात हैं। साथ ही बस के इंतजार में यात्री भाटागांव स्थित नया बस स्टैंड मेंल बैठे नजर आए।

 बता दें कि, 8 अप्रैल को दोपहर साजा ब्लॉक के अंतर्गत आने वाले बीरमपुर गांव में दो बच्चों के बीच मामूली कहासुनी हुई और एक बच्चे ने दूसरे बच्चे के ऊपर हमला कर दिया जिसके बाद देखते ही देखते यह मामला खूनी संघर्ष में बदल गया। इस घटना में एक समुदाय के लोगों ने दूसरे समुदाय के युवक पर धारदार हथियार से हमला कर दिया, जिसके चलते 22 वर्षीय युवक भुनेश्वर साहू की मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद इलाके में हिंसा भड़क उठी और पूरा शहर देखते ही देखते छावनी में तब्दील हो गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.