टोक्यो ओलंपिक: वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने दिलाया भारत को पहला पदक

टोक्यो ओलंपिक में भारत को पहला पदक वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने दिलाया है।  49 किलो वर्ग में चानू ने रजत पदक हासिल। भारत को ये पदक ओलंपिक के दूसरे दिन ही मिला है।  21 बरस  बाद भारत को भारोत्तोलन में मैडल मिला है। इस सफलता पर देश से उन्हें बधाइयों का तांता लग गया है। मीराबाई की इस सफलता पर राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें बधाई दी है।

0 54

- Advertisement -

deshdigital desk

टोक्यो ओलंपिक में भारत को पहला पदक वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने दिलाया है।  49 किलो वर्ग में चानू ने रजत पदक हासिल। भारत को ये पदक ओलंपिक के दूसरे दिन ही मिला है।  21 बरस  बाद भारत को भारोत्तोलन में मैडल मिला है। इस सफलता पर देश से उन्हें बधाइयों का तांता लग गया है। मीराबाई की इस सफलता पर राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें बधाई दी है।

- Advertisement -

स्नैच के बाद मीराबाई चानू दूसरे नंबर पर थीं| इसके बाद क्लीन एंड जर्क के पहले प्रयास में मीराबाई चानू 110 किग्रा उठाने में कामयाब रहीं| दूसरे प्रयास में मीराबाई चानू 115 किग्रा वजन उठाने में सफल रहीं| तीसरे  प्रयास में नाकाम रहीं और रजत पदक से संतुष्ट होना पड़ा|

यह पहली बार है, जब भारत ने ओलंपिक के पहले दिन पदक जीता|  चानू भारोत्तोलन में रजत पदक जीतने वाली पहली भारतीय हैं| इससे पहले चानू ने 2021 में एशियाई चैंपियनशिप में कुल 213 किलोग्राम वजन उठाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था|

Leave A Reply

Your email address will not be published.