गरीबों की जमीन पर भूमाफियाओं का कब्जा, अंकित 26 को भूख हड़ताल पर  

महासमुंद जिले के बागबाहरा में  शासकीय बेशकीमती जमीनों को भूमाफियाओं के कब्जे से मुक्त करवाने अंकित बागबाहरा कलेक्टर परिसर में 26 जुलाई को गांधी प्रतिमा के नीचे भूख हड़ताल करेंगे। अंकित ने बताया कि बागबाहरा शहर में शासकीय योजनाओं हेतु एक तरफ जमीनें नहीं बची है और दूसरी तरफ राष्ट्रीय मार्ग 353 से वार्ड क्रमांक 2 में लगी प्रचलित आबादी जमीन क्रमांक 1/388 को बाकायदा दीवार उठा लगभग 3 से 5 एकड़ को अवैधानिक ढंग से कब्जा कर 500 से 1000 रुपये वर्ग फिट में बेची जा रही है।

0 55

- Advertisement -

deshdigital

महासमुंद | महासमुंद जिले के बागबाहरा में  शासकीय बेशकीमती जमीनों को भूमाफियाओं के कब्जे से मुक्त करवाने अंकित बागबाहरा कलेक्टर परिसर में 26 जुलाई को गांधी प्रतिमा के नीचे भूख हड़ताल करेंगे। अंकित ने बताया कि बागबाहरा शहर में शासकीय योजनाओं हेतु एक तरफ जमीनें नहीं बची है और दूसरी तरफ राष्ट्रीय मार्ग 353 से वार्ड क्रमांक 2 में लगी प्रचलित आबादी जमीन क्रमांक 1/388 को बाकायदा दीवार उठा लगभग 3 से 5 एकड़ को अवैधानिक ढंग से कब्जा कर 500 से 1000 रुपये वर्ग फिट में बेची जा रही है।

ब्लॉक कांग्रेस कमेटी बागबाहरा के पूर्व अध्यक्ष ने बताया कि उक्त शासकीय भूमि में पहले कब्जा किया फिर उसकी कीमत और बढ़ाने स्थानीय राजस्व अधिकारी से मिलकर नगर पालिका की पौनी पसारी योजना उस जमीन के अंतिम छोर में मात्र 12 हजार फीट में लाई जा रही है,और उस योजना हेतु 1000 मीटर  में सीसी रोड बना पीछे के भूस्वामियों व अवैध कब्जा कर बिक्रीधारियों को लाभ पहुंचाने बनवाई जा रही है। अंकित ने कहा कि भूपेश सरकार की योजना गरीबों को लाभ पहुंचाने की है और यहां गरीबों की आड़ में भू माफियाओं को खुला लाभ पहुंचाया जा रहा है ।

- Advertisement -

इसी प्रकार बागबाहरा के अंतिम छोर में राष्ट्रीय राजमार्ग 353 में  वार्ड क्रमांक 9 व 10 के मुख्य मार्ग पर लगी बड़ें झाड़ के जंगल खसरा क्रमांक 141/1 पर भूमाफियाओं व भाजपा के बड़े पदाधिकारियों द्वारा कब्जा कर आलीशान वाणिज्यिक भवन व आलीशान घर बनाया जा रहा है, और बिक्री करने हेतु कई एकड़ जमीन को बाकायदा घेर कर खम्बा लगा अपना कब्जा प्रदर्शित किया जा रहा है जिसे जनहित में महासमुंद जिला प्रशाशन व बागबाहरा तहसील व नगर पालिका को संरक्षित करना अत्यंत आवश्यक है ।

बड़े झाड़ के जंगल में बने भव्य व्यावसायिक परिसर

इस बावत उनके द्वारा पूर्व में एस डी एम कार्यालय बागबाहरा को  14/6/21 को नगरपालिका परिषद बागबाहरा सी एम ओ को भी  14/6/21 को पुनः एस डी एम बागबाहरा को  2/7/21 को इस संबंध में अवैध कब्जा हटवाने व शासकीय बेशकीमती जमीन को सुरक्षित करने आवेदन दे चुके हैं  फिर तहसील बागबाहरा को, व जिलाधीश महासमुंद को बागबाहरा में कार्यवाही न होता देख आवेदन दिया था ।

उन्होंने कहा है ,लगातार जानकारी लिखित में देने के बावजूद भी भू माफियाओं को संरक्षण देने व शासकीय बेशकीमती जगह को खाली न करवाने व सुरक्षित संरक्षित न करने के खिलाफ  वे 26 जुलाई को  भूख हड़ताल पर बैठेंगे | जिसकी सम्पूर्ण जवाबदारी स्थानीय प्रशासन की होगी । इस संबंध में अंकित बागबाहरा द्वारा जिलाधीश महासमुंद, तहसीलदार बागबाहरा,सी एम ओ नगर पालिका बागबाहरा को अवगत करवा दिया गया है ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.