अज़ीम प्रेमजी फ़ाउंडेशन का अमलीडीह और फुण्डहर स्कूल में ग्रीष्मकालीन शिविर

अज़ीम प्रेमजी फ़ाउंडेशन  के तत्वावधान में  अमलीडीह एवं फुण्डहर की प्राथमिक शालाओं में  ग्रीष्मकालीन शिविर का आयोजन किया गया| इस 10 दिवसीय शिविर में बच्चों ने बड़े उत्साह से भाग लेकर खेल-खेल में कई गुर सीखे|

0 101

- Advertisement -

रायपुर| अज़ीम प्रेमजी फ़ाउंडेशन  के तत्वावधान में  अमलीडीह एवं फुण्डहर की प्राथमिक शालाओं में  ग्रीष्मकालीन शिविर का आयोजन किया गया| इस 10 दिवसीय शिविर में बच्चों ने बड़े उत्साह से भाग लेकर खेल-खेल में कई गुर सीखे|

प्राथमिक शाला अमलीडीह एवं फुण्डहर में बच्चों के लिए 10 दिवसीय ग्रीष्मकालीन शिविर का आयोजन बड़ा ही उत्साहजनक रहा। अमलीडीह में पहला दिन महज ही 6 बच्चों के साथ कैंप शुरू हुआ फिर जैसे ही वहाँ के शेष बच्चों को पता चला, शिविर में बच्चों की संख्या 6 से 38 हो गई।

वहीं प्राथमिक शाला फुण्डहर में पहले दिन से ही शिविर में बच्चों की उपस्थिति 38 रही जो अभी तक 58 तक पहुँच गई है।

इन शिविरों के आयोजन का मुख्य उद्देश्य ये रहा कि कोविड़-19 के दौरान बच्चों की पढ़ाई में हुए नुकसान की भरपाई कराना, ग्रीष्मकालीन अवकाश के दौरान बच्चों में सीखने के प्रति उत्साह बनाए रखना तथा समुदाय में ये संदेश देना कि शिक्षकगण बच्चों की शिक्षा के प्रति कितना संवेदनशील हैं।

- Advertisement -

इन शिविरों में सबसे पहले खेल-खेल में ही बच्चों के पूर्वज्ञान को टटोलते हुए सीखने में हो रही कठिनाइयों को पता करके गतिविधियों के माध्यम से बच्चों को सिखाने का प्रयास किया गया, जिसके परिणाम आश्चर्यजनक रहा।

उदाहरण के लिए अँग्रेजी भाषा में केवल 4-6 पंक्ति की कविता के माध्यम से बच्चों ने अपने स्वयं के प्रयासों से 50 से 100 शब्दों का चयन करते हुए वाक्य बना लेते थे। इसी तरह गणित में भिन्न की समझ के लिए चार्ट पेपर में ‘भिन्न की दीवार’ बच्चों ने बनाया।

इन शिविरों का आयोजन अज़ीम प्रेमजी फ़ाउंडेशन के सदस्य श्री राकेश रंजन एवं राधेश्याम के द्वारा किया गया। जिसके लिए इन स्कूलों के प्रधान पाठक श्री आनंद मसीह एवं सुश्री रंजना अतराम एवं उनकी पूरी टीम का विशेष सहयोग मिला।

Leave A Reply

Your email address will not be published.