छत्तीसगढ़: ओमिक्रॉन का खतरा,कोविड-19 वार-रूम सक्रिय

छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य विभाग ने ‘ओमिक्रॉन’ के खतरे को देखते हुए प्रदेश में कोविड-19 वार-रूम सक्रिय कर दिया है। विभागीय प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला के निर्देश पर नवा रायपुर में इंद्रावती भवन स्थित स्वास्थ्य सेवाओं के संचालनालय में कोविड-19 वार-रूम ने आज से काम करना शुरू कर दिया है।

0 26

रायपुर| छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य विभाग ने ‘ओमिक्रॉन’ के खतरे को देखते हुए प्रदेश में कोविड-19 वार-रूम सक्रिय कर दिया है। विभागीय प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला के निर्देश पर नवा रायपुर में इंद्रावती भवन स्थित स्वास्थ्य सेवाओं के संचालनालय में कोविड-19 वार-रूम ने आज से काम करना शुरू कर दिया है।

यहां से प्रदेश भर में कोरोना की स्थिति की लगातार निगरानी और समीक्षा की जाएगी। किसी भी तरह की सलाह और मार्गदर्शन के लिए कार्यालयीन समय में फोन नंबर 0771-2235091 पर फोन किया जा सकता है।

कोरोना का नया वैरिएंट ओमीक्रॉन, डेल्टा से भी खतरनाक, वैक्सीन-बूस्टर डोज फेल

- Advertisement -

आईडीएसपी के नोडल अधिकारी डॉ. धर्मेन्द्र गहवई को कोविड-19 वार-रूम का प्रभारी बनाया गया है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा देश में ‘ओमिक्रॉन’ के बढ़ते मामलों के मद्देनजर भारत सरकार के दिशा-निर्देशों के मुताबिक सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को जरूरी निर्देश जारी किए गए हैं।

Omicron की गिरफ्त में 90 से ज्यादा देश, कई जगह लॉकडाउन

बता दें कोरोना के डेल्टा वेरियंट के साथ ही नए वेरिएंट ‘ओमिक्रॉन’ लगातार देश भर में पैर पसारता जा रहा है। इसके बढ़ते प्रकोप को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय के खेमे में हलचल मच गयी है। वही इस पर काबू पाने के लिए केंद्र और सभी राज्य सरकार प्रशासन को तमाम निर्देश दे रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.