कोरोना का नया वैरिएंट ओमीक्रॉन, डेल्टा से भी खतरनाक, वैक्सीन-बूस्टर डोज फेल

दक्षिण अफ्रीका में मिले कोरोना के घातक नए वैरिएंट ने कई देशों की नींद उड़ा दी है | ओमीक्रॉन नामक इस नए वैरिएंट के आगे वैक्सीन-बूस्टर डोज तक काम नहीं आ रहे हैं | कई  देशों ने दक्षिण अफ्रीका से आने वाली सभी उड़ानों को रद्द कर दिया है |

0 8

- Advertisement -

दक्षिण अफ्रीका में मिले कोरोना के घातक नए वैरिएंट ने कई देशों की नींद उड़ा दी है | ओमीक्रॉन नामक इस नए वैरिएंट के आगे वैक्सीन-बूस्टर डोज तक काम नहीं आ रहे हैं | कई  देशों ने दक्षिण अफ्रीका से आने वाली सभी उड़ानों को रद्द कर दिया है |

इस वैरिएंट की घोषणा गुरुवार को  दक्षिण  अफ्रीका में वैज्ञानिकों ने की थी। अब यह दो अन्य देशों इजरायल और बेल्जियम में भी पाया गया है।

who विश्व सवास्थ्य संगठन का कहना है कि अब तक वैरिएंट के लगभग 100 जीनोम अनुक्रमों की सूचना मिली है।  सबसे बड़ी  बात यह है कि कई संक्रमित व्यक्तियों को पूरी तरह से वैक्सीन लग चुकी थी। इसमें इजरायल के  एक व्यक्ति को तो  वैक्सीन की बूस्टर डोज भी दी जा चुकी थी।

WHO ने  इसे वैरिएंट ऑफ कंसर्न की श्रेणी में रखा है। वैज्ञानिक विश्लेषण के मुताबिक B.1.1.529  ओमीक्रॉन नामक यह  नया वैरिएंट डेल्टा सहित किसी भी अन्य स्वरूप के मुकाबले  तेजी से फैल रहा है|  यह वैक्सीन को चकमा दे रहा है।

- Advertisement -

यूके, इजराइल, इटली और सिंगापुर सहित कई देशों ने दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना और उनके पड़ोसी देशों के यात्रियों पर एक नए कोविड-19 वेरिएंट पर चिंताओं के कारण ‘तुरंत प्रभावी’ यात्रा प्रतिबंध लगाया है।

बता दें भारत ने शुक्रवार को 15 दिसंबर से नियमित अंतरराष्ट्रीय हवाई सेवाओं को फिर से शुरू करने की घोषणा की है ।

दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उन देशों से उड़ानें बंद करने का आग्रह  किया  जहां कोविड-19 का नया वेरिएंट मिला है।केजरीवाल  ने कहा है ,बड़ी मुश्किल से हमारा देश कोरोना से उबर पाया है। हमें इस नए वेरिएंट को भारत में प्रवेश करने से रोकने के लिए हर संभव प्रयास करना चाहिए|

उधर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा एक नए कोविड-19 वेरिएंट को लेकर अलर्ट जारी करने के बाद तमिलनाडु सरकार ने चेन्नई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे और राज्य के अन्य हवाई अड्डों पर स्क्रीनिंग तेज करने का निर्देश दिया है।

वहीँ  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  कोविड-19 की  स्थिति और टीकाकरण के संदर्भ में सरकारी अधिकारियों समेत कैबिनेट सचिव राजीव गौबा, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव पीके मिश्रा, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण और नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल के साथ मीटिंग कर रहे हैं। (deshdesk)

 

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.