अफगानिस्तान के मौजूदा हालात पर बाइडेन की आलोचना

0 16

- Advertisement -

वॉशिंगटन । तालिबान के कहर से जूझ रहे अफगानिस्तान के वर्तमान हालात को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की कड़ी आलोचना का सामना कर रहे है। ऐसे में उन्होंने सफाई दी है।

अपने नागरिकों और सहयोगियों को बाहर निकालने में हो रही दिक्कतों के बारे में उन्होंने कहा कि हमने काबुल एयरपोर्ट को सुरक्षित बनाया है। उन्होंने अफगानिस्तान के भविष्य को लेकर कोई भी बयान देने से इनकार कर दिया।

इस समय अफगानिस्तान में 6000 से ज्यादा अमेरिकी सैनिक तैनात हैं। वाइड हाउस में बाइडेन ने कहा कि हमने काबुल हवाईअड्डे को सुरक्षित किया है

जिससे न केवल सैन्य उड़ानें बल्कि अन्य देशों के नागरिक चार्टर और नागरिकों और कमजोर अफगानियों को बाहर निकालने वाले गैर सरकारी संगठनों को फिर से शुरू करने के लिए उड़ानें सक्षम हो रही हैं। उन्होंने अफगानिस्तान में फंसे अमेरिकी नागरिकों से वादा किया कि हम आपको सुरक्षित रूप से बाहर निकालेंगे।

उन्होंने कहा कि अमेरिकी सरकार काबुल हवाई अड्डे के माध्यम से अमेरिकियों और अन्य विदेशियों और कमजोर अफगानों को तालिबान के हाथों से बचाने के लिए एक बड़े पैमाने पर एयरलिफ्ट ऑपरेशन चला रही है।

उन्होंने बताया कि हमने जुलाई से लेकर अब तक 18000 से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला है। 14 अगस्त को हमारी सैन्य एयरलिफ्ट शुरू होने के बाद हम लगभग 13000 लोगों को निकाल चुके हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने सफाई देते हुए कहा कि इस समय अफगान धरती पर हमारे 6000 जवान तैनात हैं। ये जवान काबुल एयरपोर्ट के रनवे को सुरक्षा प्रदान कर रहे हैं।

- Advertisement -

काबुल हवाई अड्डे के आसपास माउंटेन डिवीजन के मरीन कमांडो नागरिकों को फ्लाइट पकड़ने में सहायता प्रदान कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह इतिहास के सबसे बड़े और सबसे कठिन एयरलिफ्टों में से एक है।

अफगानिस्तान से अपने सैनिकों को वापस बुलाने की अमेरिका की 31 अगस्त की समय सीमा से पहले हज़ार लोगों को अभी निकाला जाना बाकी है।

हालांकि अब इस अभियान में तेजी आई है। एक रक्षा अधिकारी ने कहा कि लगभग 250 अमेरिकियों सहित लगभग 5,700 लोगों को 16 सी-17 परिवहन विमानों से काबुल से बाहर निकाला गया। पिछले दो दिनों में, लगभग 2,000 लोगों को बाहर निकाला गया है।

बाइडेन ने पिछले सप्ताह को ‘दिल दहला देने वाला’ बताया, लेकिन उन्होंने जोर देकर कहा कि उनका प्रशासन लोगों की निकासी को सुचारू और गति देने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है।

उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि हम में से कोई भी इन तस्वीरों को देख सकता है और मानवीय स्तर पर उस दर्द को महसूस नहीं कर सकता है।

‘ बाइडेन ने कहा, ‘लेकिन अब मैं इस काम को पूरा करने पर ध्यान केंद्रित कर रहा हूं।’ अमेरिकी अधिकारियों ने कहा कि काबुल हवाई अड्डे पर निकासी उड़ानें शुक्रवार को कई घंटों के लिए रुकी हुई थीं।

हालांकि, दोपहर बाद फिर से उड़ानें फिर से शुरू करने का आदेश दिया गया। एक अधिकारी कहा कि अगले कुछ घंटों में काबुल से तीन उड़ानें बहरीन जा रही हैं और शायद 1,500 लोगों को ले जाने की उम्मीद है।

वॉशिंगटन में, कई सांसदों ने बाइडेन प्रशासन से काबुल हवाई अड्डे के बाहर सुरक्षा घेरे का विस्तार करने का आह्वान किया ताकि अधिक से अधिक लोग उड़ान के लिए हवाई अड्डे तक पहुंच सकें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.