प्रवचन से रोजगार ,छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामण्डलम् शुरू कर रहा डिप्लोमा कोर्स

छत्तीसगढ़ में प्रवचन को रोजगार के रूप में जोड़ा जा रहा है|  छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामण्डलम् द्वारा आगामी शिक्षा सत्र से जिन चार विषयों में रोजगार मूलक डिप्लोमा पाठ्यक्रम शुरू कर रहा है  उसमें प्रवचनम् भी शामिल है | कक्षा 10वीं उत्तीर्ण छात्र-छात्राएं दाखिला ले सकेंगे |

0 362

- Advertisement -

रायपुर| छत्तीसगढ़ में प्रवचन को रोजगार के रूप में जोड़ा जा रहा है|  छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामण्डलम् द्वारा आगामी शिक्षा सत्र से जिन चार विषयों में रोजगार मूलक डिप्लोमा पाठ्यक्रम शुरू कर रहा है  उसमें प्रवचनम् भी शामिल है | कक्षा 10वीं उत्तीर्ण छात्र-छात्राएं दाखिला ले सकेंगे |

छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामण्डलम् द्वारा आगामी शिक्षा सत्र से संस्कृत के चार विषयों में रोजगार मूलक डिप्लोमा पाठ्यक्रम प्रारंभ करेगा।

यह डिप्लोमा पाठ्यक्रम- पौरोहित्यम् (कर्मकाण्ड), प्रवचनम्, ज्योतिष शास्त्रम् और योगदर्शनम् के शुरू किए जाएंगे। सभी चारों डिप्लोमा पाठ्यक्रम एक वर्षीय होंगे।

स्कूल शिक्षा विभाग मंत्रालय द्वारा इन चारों डिप्लोमा पाठ्यक्रम को प्रारंभ करने की अनुमति प्रदान कर दी है।

- Advertisement -

डिप्लोमा पाठ्यक्रम में कक्षा 10वीं उत्तीर्ण छात्र-छात्राएं प्रवेश ले सकेंगे। इसके लिए अध्ययन केन्द्र संस्कृत विद्यामण्डलम् द्वारा निर्धारित किए जाएंगे। पौरोहित्यम् (कर्मकाण्ड)में सभी प्रकार की पूजा पद्धति के बारे में सिखाया जाएगा।

प्रवचनम् के डिप्लोमा पाठ्यक्रम में प्रवचन, भगवत गीता, रामायण, महाभारत आदि विषयों के साथ ही संदर्भ ग्रंथों के माध्यम से अध्ययन-अध्यापन कराया जाएगा।

ज्योतिष शास्त्रम् के डिप्लोमा में ज्योतिष के माध्यम से कई प्रकार के जानकारियां दी जाएंगी।

इसी प्रकार योगदर्शनम् के डिप्लोमा पाठ्यक्रम में योग के माध्यम से अपने जीवन को किस प्रकार व्यवस्थित करना है, इस बारे में सिखाया जाएगा। (dprcg)

Leave A Reply

Your email address will not be published.