आंध्र स्ट्रेन को लेकर बस्तर प्रशासन सतर्क, सीमाओं में चौकसी बढ़ी 

0 4

बस्तर| कोरोना वायरस के घातक आंध्र स्ट्रेन को बस्तर जिले में प्रवेश से पहले ही रोकथाम के लिए बस्तर जिले की सभी सीमाओं में चौकसी बढ़ा दी गई है| कलेक्टर रजत बंसल द्वारा सीमाओं में अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देशों के बाद  जिले के अधिकारी सभी सीमाओं का निरीक्षण कर सभी यात्री वाहन और मालवाहक वाहनों को रोककर उनमें बैठे यात्रियों, वाहन चालक और उनके सहयोगियों की कोरोना जांच के कार्यवाही लगातार जारी रखने के निर्देश दे रहे है|

गुरुवार को सहायक कलेक्टर सुरुचि सिंह ने कोड़ेनार पहुँच कर सीमा चौकी का निरीक्षण किया,आंध्र स्ट्रेन को रोकने के जिला प्रशासन ने बाहर से आने वाले सभी यात्रियों की जांच के निर्देश दिए है|

मालवाहक वाहनों के वाहन चालक और क्लीनर को भी कोरोना जांच के बाद ही जिले में प्रवेश दिया जा रहा है|

इसके अलावा यात्री बसों के सवारियों से कोरोना टेस्ट रिपोर्ट की माँग की जा रही है,रिपोर्ट नहीं होने की स्थिति में स्वास्थ्य जाँच दल द्वारा कोरोना टेस्ट किया जा रहा  है|

यहां सुरक्षा व्यवस्था को भी कड़ी कर दी गई है| जांच के बाद पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर कोविड केयर सेंटर और बस्तर जिले के प्रवासी लोंगों  का नेगेटिव रिपोर्ट आने पर क्वारन्टीन सेंटर भेजा जा रहा है|

जिले के भानपुरी जांच चौकी,दरभा जांच चौकी ,धनपुंजी जांच चौकी, कोडेनार और मारडूम जांच चौकी सहित एयरपोर्ट, बस स्टैंड और जगदलपुर रेलवे स्टेशन में कोरोना जाँच किया जा रहा है|

बता दें बस्तर में रतेंगा के डेंगगुड़ापारा में रहने वाले 35 साल के युवक की क्वारेंटाइन सेंटर में मौत के बाद हड़कंप मच गया| हैदराबाद से लौटे इस युवक को क्वारेंटाइन किया गया था| 4 मई की तड़के उसकी मौत हो गई थी| युवक की मौत के बाद जब उसका टेस्ट किया गया तो वह कोरोना पॉजीटिव मिला| हालाकि युवक के कोरोना वायरस के घातक आंध्र स्ट्रेन पाए जाने की पुष्टि नहीं हुई है , सैम्पल जाँच के लिए भेजा गया है|

Leave A Reply

Your email address will not be published.