बरेकेल वृद्धावस्था पेंशन मामला: 39 में से केवल 2 हितग्राही पात्र पाए गए

महासमुंद जिले के पिथौरा विकासखण्ड की ग्राम पंचायत बरेकेल में 39 युवाओं को वृद्धावस्था पेंशन देने की खबर देश डिजिटल deshdigital .in में प्रकाशन के बाद उपसंचालक समाज कल्याण विभाग महासमुन्द द्वारा की गई जांच में मात्र 2 हितग्राही पात्र पाए गए

0 256

- Advertisement -

पिथौरा|  महासमुंद जिले के पिथौरा विकासखण्ड की ग्राम पंचायत बरेकेल में 39 युवाओं को वृद्धावस्था पेंशन देने की खबर देश डिजिटल deshdigital .in में प्रकाशन के बाद उपसंचालक समाज कल्याण विभाग महासमुन्द द्वारा की गई जांच में मात्र 2 हितग्राही पात्र पाए गए जबकि 37 हितग्राही अपात्र पाए जाने से इनकी पेंशन तत्काल प्रभाव से बन्द कर दी गयी है।इसके अलावा विगत 10 वर्षों से अपात्रों को दी जा चुकी पेंशन की क्षतिपूर्ति हेतु संचालक समाज कल्याण विभाग को जांच रिपोर्ट भेज दी गयी है।

पढ़ें
महासमुंद : इस पंचायत में 9 बरस से 41 युवाओं को मिल रहा वृद्धों का मासिक पेंशन

आर टी आई के तहत उक्त मामले की जांच रिपोर्ट प्राप्त होने पर जांच अधिकारी श्रीमती संगीता सिंह उपसंचालक समाज कल्याण जिला महासमुन्द द्वारा जांच के बाद दिए गए अपने अभिमत में कहा है कि  उक्त शिकायत की जांच में शिकायतकर्ता लोचन चौहान न्यूज रिपोर्टर, सचिव श्रीमती गुलाब कोसरिया, पूर्व सरपंच पुरुषोत्तम ध्रुव एवं पूर्व एवं वर्तमान सरपंच श्रीमती डोलमती साहू का बयान एवं हितग्राहियों की मतदाता परिचय पत्र की जांच के दौरान अवलोकन करने पर पाया गया कि वर्ष 2011 की स्थिति में कुल 39 हितग्राहियों में से 02 पात्र एवं 37 अपात्र एवं 01 का पेंशन स्वीकृत नहीं किया गया है। पूर्व उप सरपंच एवं वर्तमान सरपंच का बयान | सचिव का बयान हितग्राहियों का बयान एवं मतदाता परिचयपत्र आधार कार्ड की प्रति ली गयी।

जांच टीम में सुशील कुमार चौधरी वरिष्ठ करारोपण अधिकारी जनपद पंचायत पिथौरा,प्रदीप कुमार प्रधान सी ई ओ जनपद पिथौरा,सुश्री दिप्ती साहू उपसंचालक पंचायत महासमुन्द उपसंचालक श्रीमती संगीता सिंह के साथ जांच टीम में शामिल थे।

- Advertisement -

श्रीमती सिंह ने बताया कि अपात्रों को करीब 10 वर्ष तक पेंशन दिया जा चुका है।शासन मद से फर्जी तरीके से वृद्धा पेंशन के नाम से आहरित राशि वसूली हेतु संचालनालय समाज कल्याण विभाग को जांच रिपोर्ट भेज दी गयी है अब देखना यह होगा कि इस राशि की वसूली फर्जी सूची जनपद में प्रस्तुत करने वाले पर , स्वीकृत करने वालो या फर्जी तरीके से पेंशन लेने वालों से वसूल की जाएगी।

पूर्व सरपंच पुरुषोत्तम ध्रुव

ज्ञात हो कि उक्त मामले की शिकायत बरेकेल के पूर्व सरपंच पुरुषोत्तम ध्रुव द्वारा विगत 10 वर्षों से की जा रही थी परन्तु कभी भी किसी भी अफसर ने शिकायत की जांच करवाने की जहमत नही उठाई परन्तु देश डीजिटल  deshdigital में खबर प्रकाशन  वृद्धावस्था पेंशन घोटाला: बरेकेल खुर्द पहुंची जाँच टीम  के बाद प्रशासन ने मामले को संज्ञान में लिया था।

deshdigital के लिए रजिंदर खनूजा

Leave A Reply

Your email address will not be published.