देवपुर वन परिक्षेत्र के कुरकुटी में कुत्तों के हमले में काले हिरन की मौत : देखें वीडियो

बार नवापारा अभ्यारण्य में लंबे समय से अनुकूलन केंद्र में कैद कर रखे गए काले हिरणों को छोड़े जाने के बाद एक और काला हिरन आज गुरुवार को देवपुर वन परिक्षेत्र के कुरकुटी के एक खेत मे कुत्तों के हमले से मारा गया.

0 192

- Advertisement -

पिथौरा| बार नवापारा अभ्यारण्य में लंबे समय से अनुकूलन केंद्र में कैद कर रखे गए काले हिरणों को छोड़े जाने के बाद एक और काला हिरन आज गुरुवार को देवपुर वन परिक्षेत्र के कुरकुटी के एक खेत मे कुत्तों के हमले से मारा गया.

विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बार अभ्यारण्य के अनुकूलन क्षेत्र में कोई 3 साल कैद में रखने के बाद कुछ काले हिरणों को विगत वर्ष बार के जंगल मे छोड़ा गया था. परन्तु एक बाड़े में ही आसानी से खाना मिलने से अब छोड़े गए काले हिरण जंगल मे अपना भोजन तलाशने की बजाय अभ्यारण्य के समीप के ग्रामो तक पहुच रहे है.

ग्राम के समीप इन हिरणों को देखते ही ग्राम के आवारा कुत्ते इन पर टूट पड़ते है।जिससे कोई छह माह पूर्व 2 काले हिरणों की मौत हो चुकी है.

इसके बाद आज पुनः कुछ काले हिरण बया पिथौरा के बीच स्थित ग्राम कुरकुटी के पास घूमते दिखाई दिए थे. खुले में घूमते देख ग्राम के तीन कुत्ते इनके पीछे पड़ गए थे.

प्रत्यक्षदर्शी ग्रामीणों के अनुसार एक काला हिरन कुत्तों से बचते एक खेत मे उतर गया. परन्तु रबी की सिंचाई के कारण खेत गिला था. जिस कारण हिरन का पैर कीचड़ में धंस गया. हिरन के भाग न पाने पर तीनों कुत्ते उस पर टूट पड़े. जिसे देख कर ग्रामीणों ने कुत्तों से हिरन को मुक्त कराया. परन्तु तब तक हिरन गम्भीर रूप से घायल हो चुका था.

- Advertisement -

दूसरी ओर घटना की सूचना मिलते ही देवपुर रेंजर ज्योति गुप्ता एवम सपअ शालिक राम डड़सेना तत्काल घटना स्थल पहुच कर पशु चिकित्सक की व्यवस्था में लग गए. परन्तु पशु चिकित्सक के आने के पूर्व ही काले हिरण ने दम तोड़ दिया.

देखें वीडियो भागते हिरन का 

 

पी एम के बाद होगा अग्नि संस्कार–रेंजर
देवपुर में पदस्थ रेंजर ज्योति गुप्ता ने इस प्रतिनिधि को बताया वे घटना की सूचना मिलते ही घटना स्थल पहुच गयी है।उच्च अधिकारियों को घटना की सूचना दे दी गयी है. उच्च अधिकारियों के पहुचने के बाद उनके निर्देशानुसार ही काले हिरण का पोस्टमार्टम कर वही दाह संस्कार कर दिया जायेगा.

deshdigital के लिए रजिंदर खनूजा 

Leave A Reply

Your email address will not be published.