GST वृद्धि के विरोध सरगुजा के फुटवियर्स दूकान बंद रहे 

GST  दर 12 प्रतिशत कर दिए जाने के विरोध में सरगुजा के फुटवियर्स कारोबारियों ने अपने दूकान बंद रखे | फुटवियर संचालकों ने जीएसटी दर को घटाकर पहले की तरह 5 प्रतिशत करने की मांग की। 

0 17

- Advertisement -

अंबिकापुर। GST  दर 12 प्रतिशत कर दिए जाने के विरोध में सरगुजा के फुटवियर्स कारोबारियों ने अपने दूकान बंद रखे | फुटवियर संचालकों ने जीएसटी दर को घटाकर पहले की तरह 5 प्रतिशत करने की मांग की।

 

केंद्र सरकार द्वारा फुटवियर्स के कारोबार में GST दर को 5 प्रतिशत से बढ़ाकर 12 प्रतिशत कर दिए जाने के विरोध में आज सरगुजा के सभी फुटवियर संस्थान बंद रहे। फुटवियर संचालकों ने जीएसटी दर को घटाकर पहले की तरह 5 प्रतिशत करने की मांग की। 1 दिन दुकान बंद रहने से थोक एवं फुटकर दुकान संचालकों को लगभग 40 लाखों रुपए का नुकसान हुआ है।

अपनी अपनी दुकान बंद कर विरोध जता रहे भारत बूट हाउस के संचालक जगदीप सिंह छाबड़ा ने बताया कि हमारे कारोबार में 12 प्रतिशत GST लगा दिया गया है जो सभी व्यापारियों के लिए परेशानी का कारण बन गया है। 1 रुपए की चीज हो या फिर 100 रुपए की चीज सभी पर 12 प्रतिशत जीएसटी लगा दिया गया है। इससे हमारा कारोबार काफी प्रभावित होगा।

- Advertisement -

GST दर बढ़ने से दुकान संचालक ही नहीं बल्कि उपभोक्ता भी प्रभावित होंगे। फिलहाल कोरोना की तीसरी लहर तेजी से बढ़ रही है। ऐसे में आर्थिक भार हम पर और उपभोक्ताओं पर पड़ेगा। जिस प्रकार से कपड़े में लगाए गए जीएसटी दर को खत्म किया गया उसी प्रकार फुटवियर में भी लगाई गई जीएसटी दर को घटाकर 5 प्रतिशत किया जाए।

जैन फुटवियर के संचालक राकेश जैन ने कहा कि GST दर बढ़ने के विरोध में आज हम सभी ने अपनी दुकानें बंद रखी हैं। आगे भी अगर जीएसटी दर कम नहीं किया जाता है तो हमारा विरोध होता रहेगा। जीएसटी दर बढ़ाए जाने से सीधा सीधा असर हमारे कारोबार पर पड़ेगा। इसके साथ-साथ आम नागरिकों पर भी इसका बोझ बढ़ेगा।

सभी दुकान संचालकों ने GST दर को कम करने की मांग की है। इस दौरान फुटवियर संचालक विनय गुप्ता ,आकाश गुप्ता, आबिद अली, रॉबिन अग्रवाल ,हिमांशु जैन, मनीष अग्रवाल, हैदर अली, मनीष गुप्ता, पुनीत अग्रवाल सहित अन्य मौजूद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.