टीएमसी नेता ने थिएटर आर्टिस्ट को लात-घूंसों से पीटा

 पश्चिम बंगाल के नदिया जिले के रानाघाट में एक थिएटर एक्टर को ममता सरकार की आलोचना करना काफी महंगा पड़ गया। 42 वर्षीय अभिनेता निरुपम भट्टाचार्य ने बुधवार को आरोप लगाया कि रविवार को तृणमूल कांग्रेस के एक पंचायत नेता देबाशीष कहार ने...

0 26

- Advertisement -

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के नदिया जिले के रानाघाट में एक थिएटर एक्टर को ममता सरकार की आलोचना करना काफी महंगा पड़ गया। 42 वर्षीय अभिनेता निरुपम भट्टाचार्य ने बुधवार को आरोप लगाया कि रविवार को तृणमूल कांग्रेस के एक पंचायत नेता देबाशीष कहार ने ममता बनर्जी सरकार की आलोचना करने वाले नाटक के मंचन के लिए उसकी बुरी तरह पिटाई की। दरअसल 9 अप्रैल को राष्ट्र-ए कसाई जिसका मतलब सरकार असली कसाई है इस नाटक का मंचन किया गया था।

- Advertisement -

उन्होंने कहा कि यह नाटक कवि-कार्यकर्ता वरवारा राव की कविता ‘कसई’ का रूपांतरण है। निरुपम भट्टाचार्य ने फेसबुक पर पोस्ट डालकर घटना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि रविवार रात को अनुलिया में उनके घर के पास उन पर हमला किया गया। ये हमला तब हुआ जब वो उत्तर 24-परगना के हलीशहर में नाटक के 21वें शो के बाद रात को 11.30 बजे घर लौट रहे थे। उसी दौरान पेशे से टीचर निरुपम को पंचायत नेता देबाशीष कहार ने अपने साथियों के साथ जमकर पीटा जिसके बाद सोमवार सुबह उन्होंने राणाघाट थाने में शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस मामले में जांच कर रही है।

 बता दें कि कोशाई नाटक उत्तर प्रदेश में हाथरस बलात्कार-हत्या और पश्चिम बंगाल में बोगतुई हत्याकांड और हंसखली बलात्कार मामले जैसी घटनाओं को उजागर करते हुए कथित रूप से राज्य सरकार और केंद्र दोनों के कार्यों की आलोचना करता है। इस मामले में अन्य थिएटर कार्यकर्ताओं ने कहा कि सीपीएम पार्टी के पूर्व सदस्य निरुपम के लिए परेशानी तब से शुरू हुई जब उन्होंने पिछले साल नवंबर में कोशाई में अभिनय करना शुरू किया। इच्छापुर के रंगकर्मी और नाटककार सुभंकर दासशर्मा ने राव की कविता पर आधारित नाटक का निर्देशन किया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.