पोस्टर में तेजस्वी की फोटो नहीं होने पर किरकिरी हुई तो पत्रकारों पर भड़के तेज प्रताप

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के पोस्टर पर तेजस्वी की तस्वीर नहीं होने के मुद्दे पर हो रही किरकिरी को लेकर तेजप्रताप यादव पत्रकारों पर भड़क उठे।

0 10

- Advertisement -

पटना । राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के पोस्टर पर तेजस्वी की तस्वीर नहीं होने के मुद्दे पर हो रही किरकिरी को लेकर तेजप्रताप यादव पत्रकारों पर भड़क उठे।

दरअसल, पिछले दिनों पार्टी के पोस्टरों में छोटे भाई तेजस्वी यादव की तस्वीर नहीं होने के मुद्दे पर तेजप्रताप फेसबुक लाइव आए।

उन्होंने गुस्से में पत्रकारों को एफआईआर, मानहानि और पीआईएल दर्ज कराने की धमकियां दीं। तेजप्रताप ने पत्रकारों को चुनौती देते हुए कहा आप लोग हैं क्या? मैं आप सभी के पोर्टल के खिलाफ जनहित याचिका और प्राथमिकी दर्ज करूंगा।

मैं अपने वकील को बुलाऊंगा और सभी के खिलाफ एफआईआर, मानहानि और जनहित याचिका दायर करूंगा। बिहार का बिका हुआ मीडिया सुन ले कि मैं तुम्हारे खिलाफ मानहानि का मुकदमा कर दूंगा, मैंने जो कहा है वह करके दिखा दूंगा।

मीडिया की आलोचना करते हुए तेजप्रताप यादव ने कई पत्रकारों का नाम लिया जो उनके अनुसार उनके खिलाफ दुर्भावनापूर्ण प्रचार में शामिल हैं। उन्होंने उन्हें प्राथमिकी, जनहित याचिका (पीआईएल) और मानहानि के मामलों की धमकी दी। उन्होंने पूछा कि क्या चुनाव के समय जब पोस्टर से लालू यादव, राबड़ी देवी, मीसा भारती और उनकी तस्वीर गायब थी तब मीडिया ने हंगामा किया था।
तेजप्रताप ने कहा आज मीडिया को उस बैनर की याद आ रही है, जब चुनाव के दौरान पोस्टरों से लालू यादव, राबड़ी देवी, मीसा भारती और तेजप्रताप की तस्वीरें गायब थीं, तब मीडिया कहां था,

- Advertisement -

तब मीडिया कहां सो रहा था? विरोधियों को समझ आ गया है कि तेज और तेजस्वी भाई बिहार को सफलता के शिखर पर ले जाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं, इसलिए वे अफवाह फैला रहे हैं।

राजद नेता ने कहा जो लोग इस बात से जलते हैं कि तेजस्वी मेरे अर्जुन हैं, उन्हें जलने दो। तेजप्रताप ने पटना में रविवार को राजद की छात्र इकाई को संबोधित किया था।

पटना में पार्टी मुख्यालय में पूर्व मुख्यमंत्रियों, लालू प्रसाद यादव और राबड़ी देवी के साथ तेजप्रताप यादव की तस्वीरों वाले कई बड़े बैनर और पोस्टर लगाए गए थे।

जिनमें तेजस्वी यादव की तस्वीर नहीं थी। इसके बाद पार्टी के अंदर वर्चस्व की लड़ाई को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जाने लगे थे। बैठक के बाद तेजप्रताप ने कहा था तेजस्वी हमारे दिलों में रहते हैं।

अगर बैनर और पोस्टर में उनकी फोटो नहीं है, तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, तेजस्वी मेरे अर्जुन हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.