झारखंड में पहली से 5वीं तक के स्कूल अभी नहीं खुलेंगे- मंत्री

 झारखंड में कक्षा एक से पांचवी तक के छात्र-छात्राओं को पढ़ाई (आफलाइन क्लास) के लिये स्कूल बुलाने की इजाजत नहीं दी गई है। राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार की शुक्रवार को हुई बैठक में फिलहाल निर्णय नहीं हो सका है।

0 9

- Advertisement -

रांची|  झारखंड में कक्षा एक से पांचवी तक के छात्र-छात्राओं को पढ़ाई (आफलाइन क्लास) के लिये स्कूल बुलाने की इजाजत नहीं दी गई है। राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार की शुक्रवार को हुई बैठक में फिलहाल निर्णय नहीं हो सका है। स्वास्थ्य एवं आपदा प्रबंधन मंत्री बन्ना गुप्ता ने पत्रकारों के सवाल के जवाब में कहा कि छोटी कक्षाओं के लिये स्कूल खोलने पर फिलहाल निर्णय नहीं लिया गया है।

- Advertisement -

आने वाले दिनों में सरकार कोरोना संक्रमण का मूल्यांकन और हालात का आकलन करने के बाद इस दिशा में कोई निर्णय लेगी। उन्होंने बताया कि 10 वीं और उसके ऊपर के वर्ग के छात्रों के लिए कोचिंग की अनुमति दे दी गई है। पहले 18 वर्ष या इससे अधिक उम्र के छात्रों को ही केवल कोचिंग की अनुमति दी गई थी। उल्लेखनीय है कि शिक्षा विभाग की ओर से राज्य में कक्षा एक से पांचवीं तक की भी ऑफलाइन कक्षायें शुरू करने का प्रस्ताव दिया गया था।

इसके साथ ही कक्षायें चार घंटे से बढ़ाकर 6 घंटे और मिड डे मील देने का भी प्रस्ताव था। उल्लेखनीय है कि राज्य में कक्षा नौ से बारह की ऑफलाइन कक्षायें छह अगस्त से जबकि छह से आठवीं की ऑफ लाइन कक्षायें 24 सितंबर से शुरू हैं। उपस्थिति अनिवार्य नहीं है। सभी कक्षाओं की परीक्षायें आफलाइन लेने के प्रस्ताव पर भी निर्णय नहीं हो सका है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.