‘चीन की दीवार’ ढहाकर एशिया में नंबर दो बने अडानी, अंबानी की बादशाहत को दी चुनौती

भारत और एशिया के दूसरे सबसे बड़े रईस तथा अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी की नेटवर्थ एक बार फिर तेजी से बढ़ने लगी है।

0 24

- Advertisement -

नई दिल्ली । भारत और एशिया के दूसरे सबसे बड़े रईस तथा अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी की नेटवर्थ एक बार फिर तेजी से बढ़ने लगी है।

वह दुनिया के अमीरों की लिस्ट में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। अडानी 67.1 अरब डॉलर नेटवर्थ के साथ इस समय दुनिया के 14वें नंबर के रईस बन गए हैं। इसके साथ ही अडानी ने चीन के झोंग शैनशैन को पीछे छोड़ते हुए एशिया के नंबर टू का दर्जा हासिल कर लिया है।

इस साल अडानी की नेटवर्थ 33.3 अरब डॉलर बढ़ी है। अडाणी की नेटवर्थ, इससे पहले 14 जून को, 77 अरब डॉलर हो गई थी और वह एशिया के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी के लिए खतरा बन गए थे। झोंग शैनशैन की नेटवर्थ में इस साल 12.6 अरब डॉलर की कमी आई है और वह दुनिया के अमीरों की सूची में 16वें स्थान पर खिसक गए हैं।

इसके बाद अडानी ग्रुप के शेयरों में गिरावट के कारण उनकी नेटवर्थ में गिरावट आई और वह अमीरों की लिस्ट में 25वें स्थान पर फिसल गए थे।

अडानी ग्रुप की दो कंपनियों के शेयरों ने सोमवार को बीएसई पर 5 फीसदी का अपर सर्किट छू लिया। पिछले एक माह में अडानी ट्रांसमिशन का शेयर 67 फीसदी चढ़ चुका है।

अडानी ग्रुप की बाकी कंपनियों के शेयरों में भी आज तेजी का रुख रहा। अडानी पावर के शेयरों में 4.98 फीसदी, ग्रुप की फ्लैगशिप कंपनी अडानी एंटरप्राइजेज के शेयरों में 0.40 फीसदी, अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकॉनमिक जोन के शेयरों में 0.17 फीसदी, अडानी ग्रीन एनर्जी के शेयरों में 0.85 फीसदी की तेजी आई है। इससे अडानी की नेटवर्थ में 1.93 अरब डॉलर की तेजी आई है।

तीन माह पहले अडानी ग्रुप की कंपनियों के शेयर 52 हफ्ते के हाई पर पहुंच गए थे। लेकिन मीडिया में आई एक रिपोर्ट के कारण अडानी ग्रुप के शेयरों में गिरावट आई थी।

इस रिपोर्ट में दावा किया गया था कि नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी लिमिटेड ने तीन विदेशी फंड्स के अकाउंट्स फ्रीज कर दिए हैं। इनके पास अडानी ग्रुप की 4 कंपनियों के 43,500 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के शेयर हैं। हालांकि अडानी ग्रुप ने इस रिपोर्ट का खंडन किया था।

एशिया और भारत के सबसे बड़े रईस और रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी लंबे समय से दुनिया के अमीरों की सूची में 12वें स्थान पर बने हुए हैं।

- Advertisement -

ब्लूमबर्ग बिलिनेयर्स इंडेक्स के मुताबिक उनकी नेटवर्थ 87.5 अरब डॉलर है। इस साल उनकी नेटवर्थ में 10.8 अरब डॉलर का इजाफा हुआ है।

सोमवार को रिलायंस के शेयरों में 1.94 फीसदी की तेजी आई थी। कंपनी का शेयर 16 सितंबर 2020 को 2,369 रुपऐ के रेकॉर्ड स्तर पर पहुंचा था।

इसके साथ ही अंबानी की नेटवर्थ 90 अरब डॉलर पहुंच गई थी और वह दुनिया के अमीरों की सूची में चौथे स्थान पर आ गए थे। इसके बाद कंपनी के शेयरों में गिरावट से उनकी नेटवर्थ में कमी आई और वह टॉप 10 से बाहर हो गए।

दुनिया के अमीरों की सूची में अंबानी 12वें और अडानी 14वें नंबर पर हैं। अडानी चीन के झोंग शैनशैन को पीछे छोड़कर एशिया में फिर से नंबर टू बने हैं। इस साल अडानी की नेटवर्थ 33.3 अरब डॉलर बढ़ी है।

दूसरी ओर झोंग शैनशैन की नेटवर्थ में इस साल 12.6 अरब डॉलर की कमी आई है और वह अमीरों की सूची में 16वें नंबर पर खिसक गए हैं। अंबानी और अडानी के बीच अब स्पेन के अमेंसियो ओर्टेगा रह गए हैं। वह 74.1 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ 13वें नंबर पर हैं।

खबरों के मुताबिक टेस्ला के सीईओ एलन मस्क 198 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ दुनिया के सबसे बड़े रईस हैं। ऐमजॉन के जेफ बेजोस 198 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर हैं।

जबकि फ्रांसीसी बिजनसमैन और दुनिया की सबसे बड़ी लग्जरी गुड्स कंपनी एलवीएमएच मोइट हेनेसी के चेयरमैन और चीफ एग्जीक्यूटिव बर्नार्ड आरनॉल्ट (162 अरब डॉलर) इस लिस्ट में तीसरे स्थान पर हैं।

माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर बिल गेट्स (152 अरब डॉलर) चौथे नंबर पर हैं। अमेरिकन मीडिया के दिग्गज और फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग 141 अरब डॉलर की वेल्थ के साथ पांचवें स्थान पर हैं।

अमेरिकी कम्प्यूटर साइंटिस्ट और इंटरनेट उद्यमी लैरी पेज 129 अरब डॉलर के साथ छठे, गूगल के को-फाउंडर सर्गेई ब्रिन 124 अरब डॉलर के साथ सातवें, अमेरिकी बिजनसमैन तथा निवेशक स्टीव बाल्मर 108 अरब डॉलर के साथ आठवे,

जाने माने निवेशक वारेन बफे 104 अरब डॉलर की नेटवर्थ से साथ नौवें और लैरी एलिसन 103 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ दसवें स्थान पर हैं। अहम बात यह है कि दुनिया के टॉप 10 रईसों में 9 अमेरिका के हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.