बेटी ने किया अपनी मां का अंतिम संस्कार

कोरोना संक्रमित माँ की मौत के बाद बेटे ने अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया

0 3

शाहजहांपुर | कोरोना संक्रमित माँ की मौत के बाद बेटे ने जब अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया तो बेटी ने अपनी मां का अंतिम संस्कार किया।

यूपी में  61 साल की सुदामा देवी सोमवार को कोविड 19 से अपनी लड़ाई हार गईं, जिसके बाद उनके परिवार में से कोई भी व्यक्ति उनका शव लेने के लिए नहीं आया, जबकि उनके परिवार में उनका एक बेटा और एक बेटी है।

उनके  बेटे अजय ने उनकी बॉडी लेने से मना कर दिया जिससे उनका शव कई घंटो तक मार्चुरी में ऐसे ही पड़ा रहा।

उनकी बेटी मंजू पावयन शहर में रहती है लेकिन उसके पास शाहजहाँपुर जाने के लिए पैसे नहीं थे जहाँ उसकी माँ रहती थी।

शव तीन दिनों तक शाहजहांपुर मेडिकल कॉलेज की मोर्चरी में रखा रहा।

एक स्थानीय पत्रकार  को इस मामले के बारे में पता चला, तो एक एम्बुलेंस चालक की मदद से, उन्होंने पैसे जमा किए और मंजू को जिला अस्पताल पहुंचाने की व्यवस्था की।

पत्रकार ने कहा, “जब मैंने महिला के बेटे से संपर्क किया, तो उसने संक्रमण के कारण दाह संस्कार में आने से इनकार कर दिया। उसकी छोटी बहन आना चाहती थी, लेकिन उसके पास पैसे नहीं थे। तब एक एम्बुलेंस चालक, वीरू कुमार, और मैंने पैसे एकत्र किए और सुनिश्चित किया कि महिला का अंतिम संस्कार उसकी बेटी की उपस्थिति में होगा। ”

मंजू ने मिडिया से कहा, “मेरा भाई नहीं आया, लेकिन मुझे अब कई भाई मिल गए हैं। उन्होंने सुनिश्चित किया कि मेरी मां का अंतिम संस्कार पूरे विधि विधान के साथ होगा।”

अजय ने अपनी मां को जिला अस्पताल में भर्ती कराया था और कोविड के सकारात्मक परीक्षण के बाद उसे वहां छोड़ दिया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.