छत्तीसगढ़ 12वीं बोर्ड के नतीजे घोषित , 97.43 पास

त्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) 12वीं बोर्ड का परिणाम रविवार को स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने जारी किया। परीक्षा का परिणाम 97.43 प्रतिशत रहा। माशिमं की इस परीक्षा में दो लाख 89 हजार परीक्षार्थी शामिल हुए थे। कोरोना के कारण इस बार घर से ही उत्तर पुस्तिका हल करने की व्यवस्था की गई थी। परीक्षा में 2 लाख 89 हजार 506 विद्यार्थी शामिल हुए थे। इनमें से 2 लाख 76 हजार 817 विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए। 95.44 फीसदी परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी से पास हुए। जबकि 1.96 फीसदी परीक्षार्थी द्वितीय श्रेणी में उत्तीर्ण हुए। इससे परे 03 फीसदी तृतीय श्रेणी में पास हुए।

0 39

- Advertisement -

रायपुर| छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) 12वीं बोर्ड का परिणाम रविवार को स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने जारी किया। परीक्षा का परिणाम 97.43 प्रतिशत रहा। माशिमं की इस परीक्षा में दो लाख 89 हजार परीक्षार्थी शामिल हुए थे।

कोरोना के कारण इस बार घर से ही उत्तर पुस्तिका हल करने की व्यवस्था की गई थी। परीक्षा में 2 लाख 89 हजार 506 विद्यार्थी शामिल हुए थे। इनमें से 2 लाख 76 हजार 817 विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए। 95.44 फीसदी परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी से पास हुए। जबकि 1.96 फीसदी परीक्षार्थी द्वितीय श्रेणी में उत्तीर्ण हुए। इससे परे 03 फीसदी तृतीय श्रेणी में पास हुए।

 

95.44 फीसदी परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी

1.96 फीसदी परीक्षार्थी द्वितीय श्रेणी

03 फीसदी तृतीय श्रेणी

- Advertisement -

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा इस वर्ष   2 हजार 402 छात्रों के परिणाम अपात्र होने के कारण निरस्त किए गए हैं तथा 341 छात्रों के परिणाम बाद में घोषित किए जाएंगे। इस वर्ष कुल 2 लाख 84 हजार 107 छात्रों के परीक्षा परिणाम आज घोषित किए गए, जिनमें से 1 लाख 30 हजार 561 बालक तथा 1 लाख 53 हजार 546 बालिकायें हैं| उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की कुल संख्या 2 लाख 76 हजार 817 है, जो घोषित परीक्षाफल का 97.43 प्रतिशत है।

माध्यमिक शिक्षा मंडल की ओर से पिछले वर्ष 2020 में छत्तीसगढ़ बोर्ड 12वीं परीक्षा परिणाम 23 जून 2020 को जारी किया गया था। पिछली बार 12वीं कक्षा का पास प्रतिशत 78.59 फीसदी रहा था जिसमें 82.02 फीसदी लड़कियां एवं लड़कों का पास प्रतिशत 74.70 फीसदी रहा था।

इस बार 12वीं बोर्ड के परिणाम के बाद असंतुष्ट छात्र-छात्राओं को पुनर्मूल्यांकन के लिए अवसर नहीं दिया जाएगा। इसके लिए माशिमं की परीक्षाफल समिति ने पहले ही निर्णय ले लिया था। इसके अलावा पुनर्गणना भी नहीं करा सकेंगे।छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने निर्णय लिया है कि इस बार मेरिट सूची नहीं जारी की जाएगी। माध्यमिक शिक्षा मंडल के सचिव प्रोफेसर डीके गोयल ने बताया कि मेरीट सूची जारी नहीं करने का निर्णय ले लिया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.