NEET 2021 परीक्षा का रिजल्ट घोषित

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने नीट 2021 परीक्षा का रिजल्ट सोमवार शाम घोषित कर दिया है। इसके बाद अब मेडिकल कॉलेजों में जल्द दाखिले शुरू किए जाएंगे।  बता दें सुप्रीम कोर्ट ने 28 अक्टूबर को एनटीए को नीट परिणाम 2021 जारी करने की अनुमति दी थी।

0 35

नई दिल्ली |  नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने नीट 2021 परीक्षा का रिजल्ट सोमवार शाम घोषित कर दिया है। इसके बाद अब मेडिकल कॉलेजों में जल्द दाखिले शुरू किए जाएंगे।  NEET UG 2021 में तीन छात्र मृणाल कुटेरी (तेलंगाना), तन्मय गुप्ता (दिल्ली) और कार्तिक जी नायर (महाराष्ट्र) को ऑल इंडिया रैंक 1 मिला है|

बता दें सुप्रीम कोर्ट ने 28 अक्टूबर को एनटीए को नीट परिणाम 2021 जारी करने की अनुमति दी थी। सुप्रीम कोर्ट से अनुमति मिलने के बाद 1 नवंबर को एनटीए परीक्षा परिणाम की घोषणा कर दी है।

एनटीए ने उम्मीदवारों के व्यक्तिगत ईमेल आईडी पर उनका स्कोरकार्ड साझा किया है। नीट 2021 की आधिकारिक वेबसाइट https://neet.nta.nic.in/ पर भी यह रिजल्ट जारी किया है ।

NEET UG 2021 में तीन छात्र मृणाल कुटेरी (तेलंगाना), तन्मय गुप्ता (दिल्ली) और कार्तिक जी नायर (महाराष्ट्र) को ऑल इंडिया रैंक 1 मिला है

- Advertisement -

इससे पहले संभावना जताई जा रही थी कि परीक्षा के एक माह बाद नीट यूजी परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया जाएगा। गौरतलब है कि परीक्षा परिणाम में अधिक देरी होने से 2021-22 के नए सत्र में भी देर हो सकती थी।

NEET परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले छात्रों को देश के विभिन्न प्रतिष्ठित मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस, बीएएमएस, बीएसएमएस, बीयूएमएस और बीएचएमएस समेत विभिन्न कोर्सेज में एडमिशन मिल सकेगा।

राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग अधिनियम, 2019 में संशोधन के बाद देशभर में स्थित 13 एम्स और पुडुचेरी के जवाहरलाल पीजी चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान के एमबीबीएस पाठ्यक्रम की प्रवेश परीक्षाएं भी नीट के जरिए से ली गई हैं।

परीक्षा के लगभग एक माह के बाद नीट यूजी का रिजल्ट घोषित करने की संभावना थी। हालांकि इसमें बहुत अधिक देरी नहीं हुई है, यह रिजल्ट परीक्षा के करीब 50 दिन बाद घोषित किया गया है।

नीट यूजी 2021 परीक्षा भारत के 202 शहरों में 3,800 से अधिक परीक्षा केंद्रों में रविवार 12 सितंबर को दोपहर 2 से शाम 5 बजे के बीच आयोजित की गई थी। पूरे देश में लगभग 16 लाख छात्रों ने परीक्षा में शामिल होने के लिए आवेदन किया था।

NTA के मुताबिक, भारत सरकार की पहल पर मेडिकल प्रवेश परीक्षा ‘नीट-यूजी’ पहली बार दुबई में भी आयोजित की गई। दुबई स्थित परीक्षा केंद्र के अलावा कुवैत में भी नीट-यूजी परीक्षा आयोजित करवाई गई।  इस बार नीट में परीक्षाओं में 27 प्रतिशत ओबीसी आरक्षण को लागू करने के साथ ही छात्रों को 13 भाषाओं में यह परीक्षा देने की सुविधा प्रदान की गई।

Leave A Reply

Your email address will not be published.