राष्ट्रीय राज मार्ग 53 में मवेशियों का डेरा, हादसे बढ़े

राष्ट्रीय राज मार्ग 53 फोर लेन में प्रतिदिन दर्जनों मवेशी बेमौत मारे जा रहे हैं , वहीं इन मवेशियों के सड़क पर ही डेरा डालने से प्रतिदिन वाहन दुर्घटनाएं और इन दुर्घटनाओं में होने वाली मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है।

0 16

 

पिथौरा| राष्ट्रीय राज मार्ग 53 फोर लेन में प्रतिदिन दर्जनों मवेशी बेमौत मारे जा रहे हैं , वहीं इन मवेशियों के सड़क पर ही डेरा डालने से प्रतिदिन वाहन दुर्घटनाएं और इन दुर्घटनाओं में होने वाली मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। जबकि इस सब के जिम्मेदार टोल मैनेजर ने घटनाओं को स्वीकार करते हुए मवेशियों को हटाने में स्थानीय  प्रशासन का सहयोग लेने की बात कही है।

राष्ट्रीय राजमार्ग पर अब प्रतिदिन मवेशियों की मौतों एवम वाहन दुर्घटना से हो रही मौतों से आम लोगों में आक्रोश बढ़ रहा है। हाईवे पर कल भी एक पिकअप सब्जी भरी वाहन झलप के पास सड़क पर बैठे मवेशियों  को बचाने के कारण अनियंत्रित हो कर पलट गई।

- Advertisement -

इस दुर्घटना में जनहानि तो नही हुई परन्तु हजारो की सब्जियां खराब हो गयी ।इसके अलावा तुमगांव से सांकरा के बीच प्रतिदिन सैकड़ो आवारा मवेशी फोर लेन पर बैठे दिखते है।जिन्हें रात में ट्रुक एवम अन्य वाहन चालक अचानक देखकर इन्हें बचाने के चक्कर में या तो आनियंत्रण होकर स्वयम की वाहन दुर्घटनावकर बैठते हैं  या मवेशी को कुचल डालते हैं ।इसकी चपेट में दुपहिया सवार आकर अपनी जान गवा रहे हैं |

 लोकल अथॉरिटी से सहयोग लेंगे—प्रसाद

दूसरी ओर हादसों  के लिए जिम्मेदार भारी भरकम टोल वसुलने वाली फोरलेन अथॉरिटी के ढांक टोल में पदस्थ मैनेजर शेषु प्रसाद ने फोरलेन में मवेशियों को हटाने के लिए कंपनी की रोड क्लियरेंस वाहन चलाने की बात करते हुए बताया कि अत्यधिक मवेशी होने के कारण उनकी वाहन भी उन्हें हटा नहीं  पा रही है इसलिए अब स्थानीय प्रशासन का सहयोग लेकर रोड क्लियर करवाया जाएगा।

deshdigital के लिए पिथौरा से रजिंदर खनूजा

Leave A Reply

Your email address will not be published.