भारतीय सीमा से सटे इलाकों में चीन ने बसाए 500 मॉडल गांव, इनकी ओट में सीमा तक बनाए बंकर और सड़कें

चीन ने सीमा पर 500 मॉडल गांव विकसित किए हैं। मॉडल गांव की ओट में चीन बंकर बना रहा है। इन गांवों की ओट में उन्होंने सीमा तक सड़कें भी बना ली हैं।

0 23

- Advertisement -

नई दिल्ली । चीन ने सीमा पर 500 मॉडल गांव विकसित किए हैं। मॉडल गांव की ओट में चीन बंकर बना रहा है। इन गांवों की ओट में उन्होंने सीमा तक सड़कें भी बना ली हैं।

सिक्किम में भारत चीन और भूटान के ट्राइजंक्शन डोकलाम में हुए फेस ऑफ के बाद भी भारत और चीन की सेनाओं के बीच झड़पें जारी हैं। 6 माह पहले तक दोनों सेनाओं के बीच कई बार झड़पें होने की खबर है। हालांकि, सेना ने इस बारे में अधिक जानकारी नहीं दी है।

गलवान की घटना के बाद से सिक्किम में दोनों सेनाओं के बीच झड़पें रुकी हैं। भारतीय सेना, चीन के चरित्र को देखते हुए पूरी तरह से तैयार है।

डोकलाम फेस ऑफ के बाद से ही चीन ने सिक्किम सीमा के पास तिब्बत में अपनी ताकत बढ़ानी शुरू कर दी है। चीन ने सिक्किम के पास तक 2017 से बड़ी तेजी से चौड़ी सड़कें और पक्की संरचनाओं का निर्माण कर लिया है।

- Advertisement -

भारतीय सेना के सूत्रों के मुताबिक भारत चीन में तनाव की शुरुआत सिक्किम के नाकुला से शुरू हुई थी। इसके बाद डोकलाम और फिर गलवान की घटनाएं हुईं। ऐसे में चीन ने सिक्किम और अरुणाचल के सीमाई इलाकों में बड़ी तेजी से काम शुरू कर दिया है।

दरअसल डोकलाम में चीनियों के मंसूबे कामयाब नहीं हुए। बाद में गलवान में चीनियों को मुंह की खानी पड़ी।
अब चीनियों ने भारत सीमा पर तिब्बती मूल के लोगों को भी तैनात करना शुरू कर दिया है।

खासतौर पर इतनी ऊंचाई से लड़ने के लिए तिब्बती मूल के लोग चीनी मूल के लोगों से ज्यादा माहिर होते हैं। चीन ने भारत सीमा के पास मॉडल विलेज बनाने शुरू कर दिए हैं। सिर्फ उत्तर सिक्किम सीमा पर ही चीन ने 3 मॉडल गांव तैयार किए हैं।

इन मॉडल गांव में तिब्बती मूल के लोगों को बसाने की योजना है, चीन ने इन मॉडल गांव का निर्माण इतनी चालाकी से किया गया है कि इन्हें बंकर के तौर पर इस्तेमाल किया जा सके।

भारत चीन की इन चालाकियों से वाकिफ है। भारत ने भी अपनी तैयारी पूरी कर ली है। उत्तर सिक्किम में एकमात्र तिब्बती पठार भारतीय सीमा में है। यहां भारतीय बंकर पूरी तरह से तैयार हैं और चीन की हर हरकत पर नजर रखी जा रही है। हर तरह के अत्याधुनिक हथियार यहां भारतीय फौज के पास हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.